Padheye.com : Discover Excellence

The Path To Discover Excellence

Showing posts with label Android. Show all posts
Showing posts with label Android. Show all posts

Thursday, 15 March 2018

March 15, 2018

iOS vs Android in Hindi

 अभिव्यक्ति "आईओएस बनाम एंड्रॉयड" आग के लिए ईंधन कहते हैं, दो समूहों के बीच जो अपने फोन के ऑपरेटिंग सिस्टम में आर्थिक रूप से बहुत ज्यादा के रूप में के रूप में अच्छी तरह से भावनात्मक निवेश डाल दिया । लेकिन फिर, दिन के अंत में, कौन सबसे अच्छा है? यहां, मैं कैसे वे कुछ बहुत ही बुनियादी सुविधाओं पर प्रदर्शन के आधार पर फोन के लिए प्रचलन ऑपरेटिंग सिस्टम में सबसे अधिक से दो की तुलना करने की कोशिश करेंगे/

मल्टीटास्किंग: दोनों ऑपरेटिंग सिस्टम मल्टीटास्किंग के प्रति अपने दृष्टिकोण में अलग-अलग दिशा लेते हैं। नवीनतम एंड्रॉइड अपडेट में, हाल ही में उपयोग किए गए ऐप्स रखे गए हैं, जैसे कि किसी ने ताश के पत्तों की एक डेक को पीछे की ओर फ़्लिप किया और आईओएस में रहते हुए उन्हें एक मेज पर स्प्रे किया, आपको पहले इस्तेमाल किए गए कई ऐप्स देखने को नहीं मिलते हैं ताकि ऐसा हो सके कि आपको किसी विशिष्ट ऐप की खोज में बहुत कुछ स्वाइप करने की आवश्यकता हो।

सुरक्षा: नवीनतम आईओएस में बिल्ट-इन टचआईडी फिंगरप्रिंट सेंसर है, जिसके साथ हम आसानी से कष्टप्रद लेकिन आवश्यक लॉकस्क्रीन को क्रूज कर सकते हैं। टचआईडी अब तक का सबसे मजबूत विकल्प है जो आपके डिवाइस को जल्दी से अनलॉक करने के लिए है, जबकि चोरों के लिए ऐसा करना मुश्किल हो जाता है। जबकि एंड्रॉइड में फेस रिकग्निशन, भूलभुलैया लॉक, पिन आदि जैसे लॉकिंग मैकेनिज्म का एक गुच्छा भी है लेकिन फिंगरप्रिंट लॉक से किसी की तुलना नहीं की जा सकती है । आईओएस इस दौड़ को जीतता है ।

निजी सहायक: आईओएस सिरी, एक बुद्धिमान व्यक्तिगत सहायक है । किसी सहायक की तुलना उसके साथ नहीं की जा सकती । अवधि।

अनुकूलन: एंड्रॉइड को अनुकूलन योग्य बनाया गया है। चुनें कि आप कितने होमस्क्रीन चाहते हैं, विषयों को बदलें और विजेट्स स्थापित करें। आप एंड्रॉइड को आईओएस की तरह भी देख सकते हैं। लेकिन अगर हम आईओएस की बात करें तो यह सच नहीं है । संदेह की छाया के बिना, एंड्रॉयड एक कदम आगे है ।

एप्लिकेशन प्रबंधन: एंड्रॉइड ऐप प्रबंधन में बहुत अच्छा है क्योंकि यह बहुत अच्छी तरह से जानता है कि उपयोगकर्ता को गड़बड़ करने की अनुमति कहां तक नहीं दी जानी चाहिए। आप छोड़ने, अनइंस्टॉल, क्लियर कैश को मजबूर कर सकते हैं और आपको खुद डिफॉल्ट ऐप्स बना सकते हैं। लेकिन आपके पास कैश क्लियर करने या आईओएस के लिए किसी ऐप को डिफॉल्ट करने का ऑप्शन नहीं है । एंड्रॉयड, हाथ नीचे!

टाइपिंग: एंड्रॉइड का स्टॉक कीबोर्ड अभी भी आईओएस से बेहतर है जो एक ही स्क्रीन पर महत्वपूर्ण विराम चिह्न प्रदर्शित नहीं करता है। साथ ही स्वाइप जेस्चर नाम का एक नया फीचर एंड्रॉयड का एक अहम फीचर है । एंड्रॉयड इस एक बैग ।

मैप्स: गूगल मैप्स दोनों प्लेटफार्मों पर इस्तेमाल किया जा रहा है, लेकिन यह एंड्रॉयड पर मूल रूप से प्रयोग किया जाता है । जब AppleMaps पहली बार जारी किया गया था, वहां यह सेवा के साथ कीड़े की अधिकता थी और कई उपयोगकर्ताओं को गूगल मैप्स, App स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध वापस लौट आए । एंड्रॉयड स्पष्ट रूप से बेहतर है।

संपर्क: आईओएस के संपर्कों के माध्यम से नेविगेट करने के लिए कठिन हैं, जबकि एंड्रॉइड के लोग केक वॉक की तरह लगते हैं। पसंदीदा संपर्क चालाकी से इस आधार पर रखे जाते हैं कि आप किसी व्यक्ति के संपर्क में कितनी बार होते हैं।

खोज: यह नवीनतम आईओएस अपडेट के प्रमुख सुविधाओं में से एक है। आप जहां भी हों, बस नीचे स्वाइप करें और बार स्नेक्स के माध्यम से खोजें। आईओएस स्पष्ट रूप से लंबा खड़ा है।

सॉफ्टवेयर अपडेट: हम सभी जानते हैं कि आईओएस नए अपडेट को रोलआउट करने पर कितना अच्छा है और यह कितना दर्दनाक हो सकता है, एंड्रॉइड डिवाइस के लिए अपडेट की प्रतीक्षा कर रहा है, यदि आप उन्हें फोन के जीवनकाल में प्राप्त करते हैं तो आप भाग्यशाली हैं।

स्थिरता और प्रदर्शन: पानी बाजार पर एंड्रॉयड हैंडसेट और पुराने iPhones की भीड़ से muddied हैं । Crittercism से नवीनतम डेटा आईओएस 8 पर २.२६ प्रतिशत और एंड्रॉयड ५.० पर २.२ प्रतिशत की क्रैश दर को इंगित करता है-बैलेंस पर यह कहना शायद उचित है कि आईओएस और एंड्रॉयड दोनों नवीनतम हार्डवेयर पर बहुत आसानी से चलते हैं ।

Sunday, 27 March 2016

March 27, 2016

How to Root Android Phone without risking your Phone Warranty

We have shared many guides on rooting your Android phone and along with that we on stating that there comes a risk of voiding your phone’s warranty along with rooting. However, now we are sharing an awesome guide with you which will help you to root Android phone without risking your phone warranty.

Yes, you read it right! Now the dream of yours about rooting Android phone without voiding your phone warranty is possible and it is possible by using a third-party app which is know as iRoot. You can use iRoot for rooting your Android phone and it will eliminate the risk of voiding your phone’s warranty.
This trick will not work for Android 5.0 Lollipop users

Root Android Phone without Risking your Phone Warranty
So, here are the steps which you need to follow in order to root Android phone without risking your phone warranty. Without taking your more time, I would request you to get towards the below steps to explore your solution.
Caution: If you are performing the steps on Samsung then first go to Settings >> Securityand disable Lock Reactivation.
Rooting Android Phone

  • First of all, install and Open iRoot on your computer.
  • After that, go to Developers Option and Enable USB Debugging Active on. IfDevelopers Option is not present on your device then go to About Phone from settings and tap on Build Number seven times.
  • Now you need to connect your Android phone with your PC using USB cable.
  • After that, iRoot will start looking for your device in its data base and ones it is found then it will give a Root button. Ones you got the Root button, simply click on it.
  • It will start the rooting process and will restart your device.
  • Now you may use Root Checker app to check that whether you’ve successfully rooted the device or not.

Conclusion
This was our featured guide, I am sure you would have loved it. If you have any queries related to this guide then lend your queries in the comment box. I shall get back to your queries as soon as possible and will help you out.
Was it helpful? If it was then don’t forget to share this article with your other friends and circle too. You may never know that your share may help any of your friends out there who are searching for the same stuffs.

Are You Looking For These


  •  root android phone
  •  root android phone with computer
  •  root android phone free
  •  root android phone with pc
  •  root android phone download
  •  root android phone software
  •  root android phone without computer
  •  root android phone with computer free
  •  root android phone without pc
  •  root android phone mac
  •  root android phone from pc
  •  root android phone apk 2015
  •  root android phone apps
  •  root android phone cnet
  •  root android phone on mac
  •  root android phone online
  •  root android phone for free
  •  root android phone broken screen
  •  root android phone with a computer using cmd
  •  root android phone app
  •  root android phone 2014
  •  root android phone easy
  •  root android phone tool
  •  root android phone 2.2.2
  •  root android phone 4.1.2
  •  Root Android Phone +   
  •  root android phone with computer
  •  root android phone free
  •  root android phone with pc
  •  root android phone download
  •  root android phone software
  •  root android phone without computer
  •  root android phone with computer free
  •  root android phone without pc
  •  root android phone mac
  •  root android phone from pc
  •  root android phone apk 2015
  •  root android phone apps
  •  root android phone cnet
  •  root android phone on mac
  •  root android phone online
  •  root android phone for free
  •  root android phone broken screen
  •  root android phone with a computer using cmd
  •  root android phone app
  •  root android phone 2014
  •  root android phone easy
  •  root android phone tool
  •  root android phone 2.2.2
  •  root android phone 4.1.2
  •  root android phone king
For More Details http://craxme.com/forum.php?mobile=no

Saturday, 12 September 2015

September 12, 2015

Android Development Tools

Android Development Tools

2.1. Android SDK

The Android Software Development Kit (Android SDK) contains the necessary tools to create, compile and package Android applications. Most of these tools are command line based. The primary way to develop Android applications is based on the Java programming language.

2.2. Android debug bridge (adb)

The Android SDK contains the Android debug bridge (adb), which is a tool that allows you to connect to a virtual or real Android device, for the purpose of managing the device or debugging your application.

2.3. Gradle and the Android plug-in for Gradle

The Android tooling uses Gradle as build system. The Android team provides a Gradle plug-in for build Android applications which is entered in the build.gradle file in the top root of the Android project. It typically looks like the following, please note that the version might be different in your case.

// Top-level build file where you can add configuration options common to all sub-projects/modules.

buildscript {
    repositories {
        jcenter()
    }
    dependencies {
        classpath 'com.android.tools.build:gradle:1.2.3'

        // NOTE: Do not place your application dependencies here; they belong
        // in the individual module build.gradle files
    }
}

allprojects {
    repositories {
        jcenter()
    }
} 

You find the available versions 

2.4. Android Developer Tools and Android Studio

Google provides an IDE called Android Studioas the preferred development environment for creating Android applications. This IDE is based on the IntelliJ IDE.

The Android tools provide specialized editors for Android specific files. Most of Android's configuration files are based on XML. In this case these editors allow you to switch between the XML representation of the file and a structured user interface for entering the data.

This description uses Android Studio as IDE.

2.5. Android RunTime (ART)

Android 5.0 uses the Android RunTime (ART) as runtime for all Android applications.

ART uses Ahead Of Time compilation. During the deployment process of an application on an Android device, the application code is translated into machine code. This results in approx. 30% larger compile code, but allows faster execution from the beginning of the application.

This also saves battery life, as the compilation is only done once, during the first start of the application.

The dex2oat tool takes the .dex file created by the Android tool change and compiles that into an Executable and Linkable Format (ELF file). This file contains the dex code, compiled native code and meta-data. Keeping the .dex code allows that existing tools still work.